20.8.20

पवन शर्मा की लघुकथा - '' चोर निगाहें ''


                         ( प्रस्तुत लघुकथा – पवन शर्मा की पुस्तक – ‘’ हम जहाँ हैं ‘’ से ली गई है ) 



                   चोर निगाहें


उसने अपनी साइकिल पौरी में खड़ी कर दी और घर में घुस गया | हैंडिल पर सब्जी की थैली टंगी रह गई | भीतर दद्दा अपनी पुरानी इजीचेयर पर बैठे अखबार पढ़ रहे थे | उसे देख दद्दा ने अखबार पढ़ना बन्द कर दिया और चश्मा उतारकर हाथ में ले लिया , फिर बोले ,  ‘ इधर आ आलोक , बैठ | ' 
          वह बिना कुछ कहे पास रखी कुर्सी पर बैठ गया | भीतर से अम्मा भी आ गई और दद्दा की बगल वाली कुर्सी पर बैठ गईं |
          ‘ तूने बहू को ज्वाइन करने के लिए मना कर दिया है ? '  दद्दा ने पूछा |
          ‘ आपको कैसे मालूम हुआ ? '
          ‘ बहू ने बताया | '
          वह चुप रहा | रसोई से उसकी पत्नी चाय ले आई | उसे , दद्दा और अम्मा को चाय देने के बाद पत्नी ने उससे पूछा ,  ‘ सब्जी लाए | '
          ‘ हाँ ! साइकिल के हैंडिल पर थैली टंगी है | '
          पत्नी पौरी में सब्जी की थैली लेने चली गई | दद्दा या भैया के सामने वह परदा नहीं करती है | दद्दा कहते हैं कि बहू उनकी बेटी है , फिर परदा कैसा ? कहीं बेटी भी अपने बाप के सामने परदा करती है !
          ‘ बड़ी मुश्किल से यह नौकरी मिली है | '
          वह फिर चुप रहा |
          ‘ कम – से – कम तेरा एस्टेब्लिशमेंट तो बेल – डेवलप्ड होगा | '  कहकर दद्दा ने चाय का घूँट भरा |
          ‘ आपका कहना ठीक है , किन्तु ... | '  उसने आगे की बात जानबूझकर अधूरी छोड़ दी |
          अम्मा उन दोनों के बीच पूरी तरह शांत बैठी हुईं चाय पी रहीं थीं |
          ‘ किन्तु क्या ? '
          ‘ मैं नहीं चाहता कि वह ये नौकरी करे | '
          ‘ क्यों ? ... क्या बुराई है ? और फिर इस नौकरी के लिए उसका सिलेक्शन पब्लिक सर्विस कमीशन से सेकिण्ड क्लास ऑफिसर के लिए हुआ है |' कहकर दद्दा ने चाय का आखिरी घूँट भरा और खाली कप टेबिल पर रख दिया|
          ‘ एक अपर डिविजन क्लर्क की पत्नी सेकिण्ड क्लास ऑफिसर हो – ऐसा तो ... | '  न जानें क्यों आगे के शब्द बोल नहीं पाया वह |
          उसने चोर निगाहों से देखा – अम्मा और दद्दा बिल्कुल शांत बैठे हैं , और उसकी पत्नी ... | **

 - पवन शर्मा 

पता
श्री नंदलाल सूद शासकीय उत्कृष्ट  विद्यालय ,
जुन्नारदेव  , जिला - छिन्दवाड़ा ( म.प्र.) 480551
फो. नं. - 9425837079 .
ईमेल – pawansharma7079@gmail.com





---------------------------------------------------------------------------------------------------------

संकलन - सुनील कुमार शर्मा, पी.जी.टी.(इतिहास),जवाहर नवोदय विद्यालय,जाट बड़ोदा,जिलासवाई माधोपुर  ( राजस्थान ),फोन 

नम्बर– 09414771867
              

1 comment:

आपको यह पढ़ कर कैसा लगा | कृपया अपने विचार नीचे दिए हुए Enter your Comment में लिख कर प्रोत्साहित करने की कृपा करें | धन्यवाद |